19/04/2021 - हिमाचल करंट अफेयर्स

महिला उत्पीड़न को रोकने के लिए वीरांगना ऑन व्हील्स योजना किस राज्य द्वारा शुरू की गई है?
- हिमाचल प्रदेश 

ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क को कब विश्व धरोहर का दर्जा दिया गया था? 
- जून 2014
व्याख्या : यह पार्क कुल्लू जिला में स्थित है। यह पार्क 1171 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है तथा
पार्क राज्य पक्षी जाजुराना का संरक्षक बना है। यहां करीब 500 जाजुराना पक्षी हैं। कस्तूरी मृग और बर्फानी तेंदुआ भी पार्क क्षेत्र में पाया जाता है। पार्क में वन्य प्राणियों 31 प्रजातियों में काला और भूरा भालू, कस्तूरी मृग, हिम तेंदुआ, घोरल, हिमालयन नीली भेड़, हिमालयन थार, हिमालयन विजल के अलावा मुर्गा प्रजाति और दुर्लभ पक्षियों की 209 नस्लों में जाजुराना, मोनाल, कोकलास, शाहिल, चिड सीजेंड और 44 तितलियों की प्रजातियां पाई जाती हैं। 

ऐतिहासिक कालका-शिमला रेलवे मार्ग को किस सूची में शामिल किया गया है? 
- विश्व धरोहर
व्याख्या:  9 नवंबर, 1903 को कालका-शिमला रेलमार्ग की शुरुआत हुई थी। यह रेलमार्ग उत्तर रेलवे के अंबाला डिवीजन  के अंतर्गत आता है। देश-विदेश के सैलानी शिमला के लिए इसी रेलमार्ग से टॉय ट्रेन में सफर का लुत्फ उठाते हैं। 1896 में इस रेल मार्ग को बनाने का कार्य दिल्ली-अंबाला कंपनी को सौंपा गया था। रेलमार्ग कालका स्टेशन 656 (मीटर) से शिमला (2,076) मीटर तक जाता है। 96 किमी लंबे रेलमार्ग पर 18 स्टेशन है। कालका-शिमला रेलमार्ग को केएसआर के नाम से भी जाना जाता है। 1921 में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने भी इस मार्ग से यात्रा की थी। कालका-शिमला रेललाइन पर 103 सुरंगें। बड़ोग रेलवे स्टेशन पर 33 नंबर बड़ोग सुरंग सबसे लंबी है। इसकी लंबाई 1143.61 मीटर है। सुरंग क्रॉस करने में टॉय ट्रेन ढाई मिनट का समय लेती है। रेलमार्ग पर 869 छोटे-बड़े पुल हैं। पूरे रेलमार्ग पर 919 घुमाव आते हैं। तीखे मोड़ों पर ट्रेन 48 डिग्री के कोण पर घूमती है। कालका-शिमला रेलमार्ग नेरोगेज लाइन है। इसमें पटरी की चौड़ाई दो फीट छह इंच है। कालका-शिमला रेललाइन के ऐतिहासिक महत्व को देखते हुए यूनेस्को ने जुलाई 2008 में इसे वर्ल्ड हेरिटेज में शामिल किया था। कनोह रेलवे स्टेशन पर ऐतिहासिक आर्च गैलरी पुल 1898 में बना था। शिमला जाते यह पुल 64.76 किमी पर मौजूद है। आर्च शैली में निर्मित चार मंजिला पुल में 34 मेहराबें हैं। 1974 में सुपरहिट फिल्म दोस्त का गाना गाड़ी बुला रही है इसी मार्ग पर फिल्माया गया था। 1960 में शम्मी कपूर की फिल्म ब्वाय फ्रेंड का गाना मुझको अपना बना लो... कालका-शिमला रेलमार्ग पर शूट हुआ था। साल 2000 में प्रीति जिंटा की फिल्म क्या कहना के साथ ऑल इज वेल, जब वी मेट, सनम रे और रमैया वस्तावेया जैसी फिल्मों की शूटिंग इस ट्रैक पर हो चुकी है।

गोंधला क्षेत्र हिमाचल प्रदेश के किस जिला से संबंधित है?
- लाहौल स्पीति 

Comments

Popular Posts from Elite Study

हिमाचल प्रदेश करंट अफेयर्स (जनवरी 2021 से जुलाई 2021) - Part - 02

19/07/2021 - राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय करंट अफेयर्स

04/07/2021 - हिमाचल करंट अफेयर्स