हिमाचल प्रदेश व्यक्ति विशेष

डॉ. यशवंत सिंह परमार

इनका जन्म 4 अगस्त 1906 को सिरमौर जिला के बागथान गांव में हुआ था। सिरमौर रियासत में सत्र न्यायाधीश के पद पर कार्यरत थे। वर्ष 1941 में इन्होंने इस पद से इस्तीफा दे दिया और राजनीति में प्रवेश किया। 24 मार्च 1952 को हिमाचल प्रदेश के पहले मुख्यमंत्री बने। इनकी मृत्यु 2 मई 1981 को हुई थी।

 

 हिमाचली नायक डॉ यशवंत सिंह परमार 

वर्ष 1906 में जन्मे स्वतंत्रता सेनानी डा. यशवंत सिंह परमार ने सिरमौर के एक छोटे से गांव चनालग में जन्म का हुआ था।

सिरमौर की रियासत में 11 साल तक सब जज और मजिस्ट्रे रहे। न्यायधीश के रूप में 1937 से 1941 तक सेवाएं दी।

डा. यशवंत सिंह परमार के प्रयासों से ही 15 अप्रैल, 1948 को 30 रियासतों का विलय हो सकाहिमाचल प्रदेश अस्तित्व में आया। 25 जनवरी, 1971 को इस प्रदेश को पूर्ण राज्य का दर्जा मिला।

डा. परमार पहली बार वर्ष 1952 से 1956 तक हिमाचल के मुख्यमंत्री रहे। वर्ष 1957 में सांसद तथा जुलाई, 1963 से 24 जनवरी, 1977 तक हिमाचल के मुख्यमंत्री के पद पर रहे।

हिमाचल प्रदेश का संस्थापक किसे माना जाता है?

 - डॉक्टर यशवंत सिंह परमार

डॉ यशवंत सिंह परमार का संबंध हिमाचल प्रदेश के किस जिले से था?

- सिरमौर

डॉक्टर यशवंत सिंह परमार राजनीति में आने से पहले किस व्यवसाय के साथ जुड़े थे?

- जिला और सत्र न्यायालय के न्यायाधीश थे

हिमाचल निर्माता डॉ यशवंत सिंह परमार पहली बार प्रदेश के मुख्यमंत्री कब बने थे?

- 24 मार्च 1952

डॉयशवंत सिंह परमार औद्यानिकी एवं वानिकी यूनिवर्सिटी सोलन में किस वर्ष को दी गई थी?

- वर्ष 1985 

डॉयशवंत सिंह परमार थियोसोफिकल सोसायटी देहरादून के सदस्य कब बने थे?

- वर्ष 1969

डॉयशवंत सिंह परमार हिमाचल पहाड़ी राज्य परिषद के अध्यक्ष कब बने?

- 1946-47

डॉपरमार ने अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की सदस्यता कब ग्रहण की थी?

- वर्ष 1948

1952 में हिमाचल के पहले विधानसभा चुनावों में डॉक्टर यशवंत सिंह परमार किस विधानसभा सीट से चुनकर आए थे?

- रेणुका


शांता कुमार

शांता कुमार का जन्म 13 सितंबर 1934 को गांव गढ़जुमला जिला कांगड़ा में हुआ था। हिमाचल प्रदेश के प्रथम गैर कांग्रेसी मुख्यमंत्री बने। वर्ष 1977 से 1980 तथा वर्ष 1990 से 1992 तक प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। इनके द्वारा लिखी गई प्रमुख किताबें हैं- हिमालय पर लाल छाया, पहाड़ बेगाने नहीं होंगे, देशभक्त स्वामी विवेकानंद, राजनीति की शतरंज, धरती है बलिदान की, लाज्जो, कैदी, मृगतृष्णा इत्यादि।

 

प्रोफेसर प्रेम कुमार धूमल

इनका जन्म 10 अप्रैल 1947 को हमीरपुर जिला के समीरपुर नामक गांव में हुआ था। वर्ष 1989 तथा 1991 में लोकसभा के लिए निर्वाचित हुए तथा वर्ष 1998 में पहली बार मुख्यमंत्री बने तथा वर्ष 2007 में दूसरी बार हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री बने। 1993 से 1998 तक हिमाचल प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष रहे। 1998 से 2003 तक का पहली बार मुख्यमंत्री रहे। 2007 से 2012 तक दूसरी बार मुख्यमंत्री रहे। वर्ष 2017 के विधानसभा चुनावों में सुजानपुर विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस प्रत्याशी राजेंद्र राणा से चुनाव हार गए।

 

ठाकुर रामलाल

इनका जन्म 15 जनवरी 1929 को शिमला जिला की जुब्बल तहसील के बारधाटा गांव में हुआ था। 28 जनवरी 1977 को हिमाचल प्रदेश के दूसरे मुख्यमंत्री बने। इनका संबंध कांग्रेस पार्टी से था। वर्ष 1983 में आंध्र प्रदेश के राज्यपाल बने थे जहां इन्होंने एन.टी. रामा राव के नेतृत्व में बनी सरकार को भंग कर दिया था। हिमाचल प्रदेश के एकमात्र ऐसे मुख्यमंत्री रहे हैं जो राज्यपाल बनने में भी सफल हुए।

 

अनुराग ठाकुर

इनका जन्म 24 अक्‍टूबर 1974 को हमीरपुर में हुआ था। अनुराग ठाकुर पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल के सुपुत्र है। मई 2008 के लोकसभा चुनाव में वे पहली बार लोकसभा सदस्‍य निर्वाचित हुए। हमीरपुर लोकसभा से चुनाव जीतकर वर्तमान केंद्रीय सरकार में राज्य वित्त मंत्री है

 

जगत प्रकाश नड्डा

ब्राह्मण परिवार से ताल्लुक रखने वाले जगत प्रकाश नड्डा का जन्म 2 दिसंबर सन् 1960 में बिहार की राजधानी पटना में हुआ था। इनका संबंध हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर जिला से रहा है। 1993 में हिमाचल प्रदेश से विधायक चुने गए। वर्ष 1998 में हिमाचल प्रदेश सरकार में स्वास्थ्य और संसदीय मामलों का मंत्री बनाया गया। वर्ष 2007 में हिमाचल प्रदेश सरकार में वन पर्यावरण मंत्री बनाया गया। वर्ष 2014 में मोदी सरकार में स्वास्थ्य मंत्री रहे। वर्तमान में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष है।

आनंद शर्मा

आनंद शर्मा का जन्म 5 जनवरी, 1953 को शिमला, हिमाचल प्रदेश में हुआ। आनंद शर्मा पंद्रहवीं लोकसभा में केंद्र सरकार में वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय में मंत्री के पद पर रहे। हिमाचल प्रदेश के शिमला जिला से संबंध रखने वाले श्री आनंद शर्मा का राज्यसभा के लिए वर्ष 1984 में चयन हुआ

 

विद्या स्टोक्स

इनका जन्म 8 दिसंबर, 1927 को शिमला जिले के कोटगढ़ में हुआ था। इनका विवाह प्रसिद्ध सामाजिक कार्यकर्ता सत्यानंद स्टोक्स के बेटे लाल चंद स्टोक्स से हुआ। विद्या स्टोक्स 11 मार्च, 1985 को हिमाचल प्रदेश विधान सभा की प्रथम महिला अध्यक्ष चुनी गई। 25 दिसंबर, 2012 को हिमाचल प्रदेश सरकार में सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री के पद पर कार्य किया।

 


अजय ठाकुर

अजय ठाकुर का जन्म 1 मई 1986 ई. को हिमाचल प्रदेश के नालागढ़ शहर के समीप धबोता नामक गाँव में हुआ। अजय ठाकुर पेशेवर अंतरराष्ट्रीय कबड्डी खिलाड़ी है। इन्हें वर्ष 2019 में पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया हैं।

 



Comments